अंकुरित अनाज खाने के फायदे – Benefits of Sprouts in Hindi

पिछले कुछ सालों में लोग अपनी सेहत को लेकर अधिक जागरूक हो गए हैं। जिम, पौष्टिक आहार, कसरत और योगा आदि का महत्व हमारी जिंदगी में बढ़ गया है। हालाँकि इस बात से भी इंकार नहीं किया जा सकता कि जंक फूड ने भी अपनी अहम जगह बना ली है। लेकिन जब बात सेहतमंद और पौष्टिक खाने की आती है तो अंकुरित अनाज यानी स्प्राउट्स का नाम सबसे पहले लिया जाता है। अंकुरित अनाज को लोग नाश्ते में खाना अधिक पसंद करते हैं। अपने स्वास्थ्य को लेकर जागरूक लोग अंकुरित अनाज के बारे में अवश्य जानते होंगे लेकिन अगर आपको इसके बारे में अधिक जानकारी नहीं है तो भी कोई बात नहीं। हम आपको आज अंकुरित अनाज के बारे में पूरी जानकारी देंगे। तो आइये सबसे पहले जाने कि अंकुरित अनाज किसे कहा जाता है और इसके फायदे क्या-क्या हैं।

क्या होते हैं अंकुरित अनाज यानी "स्प्राउटस" - What is Sprouts in Hindi?

अंकुरित अनाज वो अनाज होता हैं जिस पर अंकुर निकलना शुरू हो जाते हैं। अनाज को अंकुरित करने के लिए इसे कुछ देर तक पानी में भिगो कर रखना पड़ता है। अधिकतर मुंग, चने, काले चने, गेहूँ, सोयाबीन, ब्राउन राइस, कुट्टू, जवार या मूंगफली आदि का स्प्राउट्स के रूप में सेवन किया जाता हैं। अंकुरित अनाज खुद में गुणों की खान है, जिनमें प्रोटीन, विटामिन, मिनरल, आयरन, कैल्शियम, जिंक, मैग्नीशियम, ओमेगा-3 फैटी एसिड्स और फ़ाइबर आदि भरपूर होते हैं, जिनके कारण इनका सेवन सेहत के लिए बेहतरीन है। अंकुरित अनाज हमारे स्वास्थ्य के लिए कितने लाभदायक है, इसकी लिस्ट बहुत लंबी है।

अंकुरित अनाज खाने के फायदे - Benefits of Sprouts in Hindi

वजन कम करने में सहायक - For Weight Loss

अंकुरित अनाज वजन कम करने में बहुत सहायक है। इनमें पोषक तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं लेकिन कैलोरी बिलकुल नहीं होती यही कारण है कि इनके सेवन से वजन नहीं बढ़ता। अंकुरित अनाज में फ़ाइबर भी भरपूर होता है जिसके कारण आपको लम्बे समय तक भूख नहीं लगती। जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं वो अपने आहार में इन्हें अवश्य शामिल करें।

इम्युनिटी बढ़ाये - For Increase Immunity

अंकुरित अनाज हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाते हैं। स्प्राउट्स में विटामिन-C होता है जो शरीर को इन्फेक्शन और कई बीमारियों से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है। यही नहीं इनमें विटामिन-A भी पाया जाता है जिसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण होने के कारण इससे हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इम्युनिटी बढ़ने के कारण हमारा शरीर कई रोगों से दूर और स्वस्थ रहता है।

पेट के लिए बेहतरीन - Good for Stomach

अंकुरित अनाज में ऐसे एंजाइमस होते हैं जो आपकी मेटाबोलिक प्रक्रिया को ठीक रखने में मदद करते है और इसके साथ ही यह पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने में भी सहायक है। इसमें फ़ाइबर की अधिक मात्रा होने के कारण शरीर की सारी गंदगी बाहर निकल जाती है और कब्ज जैसी समस्या भी नहीं होती। अंकुरित अनाज का सेवन करने से अपच,गैस और ऐसिडिटी जैसी समस्याओं से भी मुक्ति मिलती है

आँखों की रोशनी बढ़ाएं - Increase Eye Power

अंकुरित अनाज में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट तत्व और विटामिन-A आँखों के स्वास्थ्य के लिए अच्छे होते हैं। इनका सेवन आँखों की रोशनी बढ़ाने में मददगार है। इसलिए अपनी आँखों की सुरक्षा के लिए अंकुरित अनाज का सेवन आवश्य करे।

त्वचा के लिए वरदान - Good for Skin

अंकुरित अनाज त्वचा के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। कौन खिली-खिली और सुन्दर त्वचा नहीं पाना चाहता? इसमें अंकुरित अनाज आपकी मदद कर सकते हैं। स्प्राउट्स में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स त्वचा को किसी भी तरह का नुकसान नहीं होने देते। इसमें मौजूद विटामिन-C झुर्रियों से भी हमें बचाता है। अंकुरित अनाज में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड मुहांसों और त्वचा की अन्य समस्याओं से छुटकारा दिलाता है। इनके सेवन से त्वचा में नयी चमक और नया निखार आता है।

दिल संबंधी समस्याओं से मुक्ति - Get Rid of Heart Disease

अंकुरित अनाज में पाया जाने वाले ओमेगा-3 फैटी एसिड शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल लेवल को बढ़ाते हैं और बुरे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करते है। इसके साथ ही इन्हे खाने से ब्लड सर्कुलेशन सही से होती है, जिससे ऑक्सीजन को शरीर के विभिन्न अंगों तक सही पहुँचने में मदद मिलती है।

तनाव से मुक्ति - to Get Rid of Stress

अंकुरित अनाज में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड के कारण तनाव से भी मुक्ति मिलती है इसके साथ ही इसमें मौजूद पोटाशियम ब्लडप्रेशर को संतुलित बनाये रखने में भी मदद करता है।

बालों का रखे ख्याल - Sprouts for Hair Care in Hindi

अंकुरित अनाज में विटामिन A होता है जो बालों को घना और मजबूत बनाने में सहायक है और इससे बालों की लम्बाई भी बढ़ती है। स्प्राउट्स में जिंक पाया जाता हैं जो बालों की जड़ों से मजबूत बनाता है। अंकुरित अनाज में मौजूद सेलेनियम से रुसी जैसी समस्या से छुटकारा मिलता है। यही नहीं अंकुरित अनाज में मौजूद पोषक तत्व के कारण बाल असमय सफेद नहीं होते।

अनीमिया से मुक्ति

अगर किसी के शरीर में खून की कमी हो तो उसे अंकुरित अनाज को अपने आहार में शामिल करना चाहिए। इनमें विटामिन-C होते हैं जिनके कारण शरीर में आयरन अच्छे से अवशोषित हो जाता है और शरीर में आयरन की कमी नहीं होती। शरीर में आयरन की कमी नहीं होने से अनीमिया जैसी बीमारी से बचाव होता है।

ऊर्जा का स्त्रोत - Best Source of Energy

अंकुरित अनाज ऊर्जा का अच्छा स्रोत है, इसमें मौजूद प्रोटीन शरीर को एनर्जी और ताकत प्रदान करते हैं, इसके साथ ही इनके सेवन से हमारे शरीर की मांसपेशियां भी कमजोर नहीं होती।

कैंसर के लिए लाभदायक - Beneficial for Cancer

अंकुरित अनाज में एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन A और C पर्याप्त रूप में होते हैं जो ब्रेस्ट कैंसर जैसी गंभीर बीमारी के खतरे को कम करते हैं। इसके कई गुण और पोषक तत्व कोलोरेक्टल कैंसर और ट्यूमर जैसी बीमारियों से बचाव में भी मददगार है।

मजबूत हड्डियां

अंकुरित अनाज में पाए जाने पोषक तत्व हड्डियों को मजबूत बनाने में सहायक है यही नहीं इनके सेवन से हमारा खून भी साफ़ होता है। बच्चों के लिए भी स्प्राउट्स बहुत उपयोगी है। इससे बच्चों की शारीरिक और मानसिक कमज़ोरी दूर होती है और उनका विकास सही से होता है।

बरते कुछ सावधानियां

इसमें कोई संदेह नहीं है कि अंकुरित अनाज मनुष्य के लिए अमृत के समान है लेकिन इसका सेवन करने से पहले कुछ बातों का खास ध्यान रखना चाहिए।

  • अनाज को अच्छे से अंकुरित करना चाहिए। अगर अनाज अच्छे से अंकुरित होगा तो यह हमारे शरीर के लिए उतना ही फायदेमंद होगा और उसमे पोषक तत्व अधिक होंगे।
  • बहुत दिनों तक अंकुरित अनाज को उपयोग में न लाएं बल्कि ताज़े स्प्राउट्स का ही प्रयोग करें। बहुत समय से रखे अंकुरित अनाज में बैक्टीरिया हो सकते हैं जो हमारे शरीर के लिए हानिकारक हैं।
  • अगर आपने खुद अनाजों को अंकुरित किया है तो उन्हें कच्चा ही खाएं लेकिन अगर आपने बाजार से उन्हें ख़रीदा है तो उन्हें थोड़ा पका लें क्योंकि बाजार में मिलने वाले स्प्राउट्स हो सकता है कि फ्रेश न हों ऐसे में उन्हें कच्चा खाना हानिकारक हो सकता है। भाप में पका कर भी उनका प्रयोग किया जा सकता है।
  • अगर आपको गैसट्रिटाइटिस, पेस्टिक अल्सर या डायरिया जैसी समस्या है तो अंकुरित अनाज का सेवन करने से बचे।

हर रोज अंकुरित अनाज का सेवन करे और विविधता के लिए आप रोजाना नए अनाज या दाल का प्रयोग कर सकते हैं। स्वाद बदलने के लिए आप इनमें नींबू,नमक, दही या टमाटर आदि डाल कर खा सकते हैं। पुलाव, सूप या दाल आदि में अंकुरित अनाज को डाल कर आप उनका सेवन कर सकते हैं। अंकुरित होने के कारण यह कच्चे अनाज भी आसानी से पच जाते हैं और नियमित रूप से इनका सेवन करने से कई स्वास्थ्य लाभ प्राप्त होते हैं। अंकुरित अनाज के सेवन से आपको स्वाद के साथ-साथ पूरे पोषक तत्व भी प्राप्त होते हैं।

Image Source

Copyright © 2019, Gyan Samadhan All Rights Reserved.