74वें स्वतंत्रता दिवस पर जानें इस दिन का इतिहास और महत्व, दोस्तों को भी मैसेज भेज कर दें शुभकामनाएं

भारत में हर साल 15 अगस्त को आजादी का जश्न मनाया जाता है. ये दिन भारत के इतिहास का अहम दिन है क्योंकि इसी दिन देशवासियों को अंग्रेजों की गुलामी से आजादी मिली थी. देश इस बार 15 अगस्त को 74वां स्वतंत्रता दिवस मनाने जा रहा है. भारत को 15 अगस्त 1947 को आजादी मिली थी और इसी वजह से भारत के इतिहास में ये एक बेहद ही अहम दिन माना जाता है.

कोविड-19 में स्वतंत्रता दिवस (Independence Day in COVID-19 in Hindi)

हर साल की तरह इस साल भी देश के प्रधानमंत्री दिल्ली में लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित करेंगे. वैसे तो हर साल बच्चे भी इस कार्यक्रम में शामिल होते हैं लेकिन इस साल कोरोनावायरस की वजह से बच्चे इस कार्यक्रम का हिस्सा नहीं बन पाएंगे. साथ ही हर साल की तरह इस साल झाकियां भी नहीं निकाली जाएगीं.

क्यों मनाया जाता है है स्वतंत्रता दिवस (Why Independence Day is Celebrated in Hindi)

यूरोपीय व्यापारियों ने 17वीं सदी से ही भारतीय उपमहाद्वीप में पैर जमाने की कोशिश कर दी थी. अपनी सैन्य शक्ति को बढ़ाते हुए ईस्ट इंडिया कंपनी ने 18वीं सदी के अंत तक स्थानीय राज्यों को अपने वश में करते हुए खुद को स्थापित कर लिया था. 1857 के प्रथम भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के बाद भारत सरकार अधिनियम 1858 के मुताबिक भारत पर सीधा ब्रिटेन की राजशाही का आधिपत्य हो गया था.

इसके दशकों बाद नागरिक समाज ने अपना विकास किया और इसके कारण ही 1885 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का निर्माण हुआ. प्रथम विश्वयुद्ध के बाद ब्रितानी सुधारों के काल की शुरुआत हुई ती, लेकिन इसका भारतीय समाज सुधारकों द्वारा आह्वान किया गया था. इसके बाद ही महात्मा गांधी के नेतृत्व में असहयोग और सविनय अवज्ञा आंदोलन और राष्ट्रव्यापी अहिंसक आंदोलनों की शुरुआत की गई.

1930 के दशक के बाद ब्रितानी कानूनों में सुधार होने लगा. वहीं कांग्रेस ने भी परिणामी चुनावों में जीत दर्ज की. इसका अगला दशक काफी राजनीतिक उथल पुथल से भरा रहा. वहीं द्वितीय विश्व युद्ध में भारत की सहभागिता, कांग्रेस द्वारा असहयोग और अखिल भारतीय मुस्लिम लीग द्वारा मुस्लिम राष्ट्रवाद का उदय. इन सबके चलते 1947 में राजनीतिक तनाव बढ़ गया और इसका अंत भारत और पाकिस्तान के विभाजन के साथ हुआ.

स्वतंत्रता दिवस का महत्व (Independence Day Importance in Hindi)

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर दिल्ली में पतंग उड़ाने का काफी महत्व है. इस दिन अनगिनत आकार, प्रकार और स्टाइल्स की पतंगे आकाश में दिखाई देती हैं. इनमें से कई पतंगें तिरंगें के रंगों की भी होती है, जो राष्ट्रीय ध्वज को प्रदर्शित करते हैं.

स्वंतत्रता दिवस की शायरी (Independence Day Shayari in Hindi)

फांसी चढ़ गए और सीने पर गोली खाई,
हम उन शहीदों को प्रणाम करते हैं,
जो मिट गए देश पर, हम उनको सलाम करते हैं !
स्वतंत्रता दिवस मुबारक हो।

अब तक जिसका खून न खौला, खून नहीं वो पानी है,
जो देश के काम ना आये, वो बेकार जवानी है,
स्वतंत्रता दिवस की बधाई।

ना पूछो जमाने से, क्या हमारी कहानी है,
हमारी पहचान तो बस इतनी है कि हम हिंदुस्तानी हैं।
सभी देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

दिल हमारे एक हैं एक ही है हमारी जान,
हिंदुस्तान हमारा है, हम हैं इसकी शान,
जान लुटा देंगे वतन पे हो जाएंगे कुर्बान,
इसलिए हम कहते हैं मेरा भारत महान।
सभी देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

कुछ नशा तिरंगे की आन का है,
कुछ नशा मातृभूमि की मान का है,
हम लहराएंगे हर जगह इस तिरंगे को,
ऐसा नशा ही कुछ हिंदुस्तान की शान का हैं।
स्वतंत्रता दिवस की बधाई।

स्वतंत्रता दिवस के मैसेज (Independence Day Messages in Hindi)

दुनिया में मिल जाते हैं आशिक कई
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता
नोटों में लिपट कर, सोने से भी सिमटकर मरे कोई
लेकिन तिरंगे से खूबसूरत कोई कफन नहीं होता।

लंदन देखा पेरिस देखा और देखा जापान,
सारे जग में कहीं नहीं है दूसरा हिन्दुस्तान..
We all feel proud to be an Indian.
Wishing you all a very Happy Independence Day 2020!!

आन तिरंगा, शान तिरंगा
सबको जोड़े एक तिरंगा
उत्तर-दक्षिण, पूरब-पश्चिम
एक डोर में जोड़े तिरंगा

लिख रहा हूं मैं अंजाम जिसका कल आगाज आएगा
मेरे लहू का हर एक कतरा इंकलाब कहलाएगा
मैं रहूं या न रहूं पर वादा है ये मेरा
मेरे वतन पर मरने वालों का सैलाब आएगा।
ऐसे बहादुरी भरे विचारो वाले क्रांतिकारियों को नमन, स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं।

ये नफरत बुरी है ना पालो इसे
दिलों में खलिश है निकालो इसे
ना तेरा ना मेरा ना इसका ना उसका
ये सबका वतन है बचा लो इसे!

Image Source

Copyright © 2019, Gyan Samadhan All Rights Reserved.